रसोई में कुछ अप्लाइंसेस ऐसे होते है जिनकी मदद से खाना बनाना काफी आसान हो जाता है। ऐसा ही एक अप्लाइंस है मिक्सी जिसमें कई तरह की चीजों को कुछ सेकंड में ही अच्छे से पीसा जा सकता है। मिक्सर ग्राइंडर और ब्लेंडर किचन में इस्तेमाल होने वाले मुख्य एप्लायंसेज में से एक हैं। इसका इस्तेमाल रोज़ के कामों में कभी सब्जी के लिए मसाला तैयार करने में तो कभी चटनी बनाने में किया जाता है।

यही नहीं शेक और स्मूदीज़ बनाने में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इनका इस्तेमाल करते समय हम यदि कुछ बातों को ध्यान में नहीं रखते तो ये हमारे लिए बड़ी परेशानी का कारण भी बन सकते हैं। हालांकि कुछ चीजें ऐसी भी हैं जिन्हें मिक्सी में पीसने से मिक्सी के जल्द खराब होने की संभावना बढ़ जाती है। आइए आज ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में जानते हैं।

साबूत खड़े मसाले
साबूत खड़े मसालों को कभी भी मिक्सी में नहीं पीसना चाहिए। दरअसल, मिक्सी के ब्लेड्स इतने तेज और मजबूत नहीं होते जिससे वे खड़े मसालों को अच्छी तरह पीस सके। अगर मसालों का पाउडर बन भी जाता है तो वह इतना महीन नहीं बन पाता। इसलिए बेहतर है कि आप साबूत खड़े मसालों को मिक्सी की बजाय स्पाइस ब्लेंडर में पीसें। स्पाइस ब्लेंडर खासतौर से साबूत मसालों को पीसने के लिए बनाए जाते हैं।
कॉफी बीन्स
कॉफी बीन्स को भी मिक्सी में नहीं पीसना चाहिए क्योंकि ये इसके ब्लेड्स में फंसकर इसे जाम कर सकते हैं। अगर कॉफी बीन्स पिस भी जाते हैं तो ये काफी दरदरे टेक्सचर के होंगे। बेहतर होगा कि आप कॉफी बीन्स को पीसने के लिए कॉफी ग्राइंडर का इस्तेमाल करें। इसमें काफी अच्छे से कॉफी बीन्स पिसते हैं। हालांकि अगर आपके पास कॉफी बीन्स नहीं हैं तो सामान्य मिक्सी में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में इन्हें पीसें।
बहुत ज्यादा ठंडी चीजें
कई लोग स्मूदी आदि बनाते समय फ्रोजन फ्रूट्स या फिर बर्फ को मिक्सी में डाल देते हैं, लेकिन आप ऐसा करने से बचें। ये चीजें मिक्सी के ब्लेड्स को तोड़ सकती हैं और इसके कंटेनर को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं। इसलिए बेहतर होगा कि आप फ्रोजन फ्रूट्स को पहले थोड़ी देर के लिए कमरे के तापमान पर रख दें और फिर इन्हें मिक्सी में डालें। वहीं बर्फ को बिल्कुल भी मिक्सी में न डालें।
गर्म चीजें
जिस तरह बहुत ठंडी चीजों को मिक्सी में डालना गलत है, ठीक उसी तरह गर्म चीजों को इसमें डालना गलत है। दरअसल, गर्म चीजें मिक्सी में डालने से इसकी मशीन पर काफी दबाव पड़ता है और इस वजह से यह फट भी सकता है। अगर आप किसी गर्म चीज को पीसना चाहते हैं तो इसके लिए हेंड ग्राइंडर का इस्तेमाल करें या फिर गर्म चीज को पहले ठंडा कर लें और फिर इसे सामान्य मिक्सी में पीसें।

ओवर लोडिंग से बचें

कभी भी मिक्सर ग्राइंडर या ब्लेंडर में आवश्यकता से ज्यादा सामग्री नहीं डालनी चाहिए। यदि आवश्यकता से ज्यादा सामग्री इसमें डाली जाती है तो इसका लिड खुलकर बाहर आ सकता है और इसके अंदर का सामान बाहर निकलकर गिर सकता है।

सभी सामग्रियों को मिश्रित न करें 

लोग एक ही बार में सभी सामग्रियों को ब्लेंडर में डाल देते हैं, लेकिन इससे ब्लेड को ठीक से घूमने में असुविधा होती है। जैसे यदि धनिया की चटनी बना रही हैं तो चटनी की सारी सामग्री एक साथ मिक्सी में डालने से इसका ब्लेड फंसने लगता है जिससे चटनी ठीक से पिस नहीं पाती है। इसके अलावा फ्रूट जूस बनाते समय भी सभी फलों को मिक्स करने से बचें

इस्तेमाल के बाद ब्लेंडर को धो लें

ब्लेंडर का उपयोग करने के बाद, कुछ लोग इसे तुरंत नहीं धोते हैं ऐसा करना बिलकुल गलत है। क्योंकि आपकी यह आदत बैक्टीरिया के प्रजनन के लिए एक अच्छी जगह बना सकती है। यदि बचे हुए भोजन को जार के अंदर बहुत देर तक रखा जाता है, तो यह कठोर हो सकता है और इस तरह इसे साफ करना अधिक कठिन हो जाता है।

इस्तेमाल के बाद स्विच चेक कर लें

हमेशा मिक्सर ग्राइंडर इस्तेमाल करने के बाद इसका स्विच चेक कर लेना चाहिए। कभी भी स्विच ऑन नहीं छोड़ना चाहिए। ऐसा करने से कभी अचानक से कोई बच्चा इसका इस्तेमाल कर सकता है और उसे चोट लग सकती है।

आप जब भी ब्लेंडर और मिक्सर ग्राइंडर का इस्तेमाल करें आपको उपर्युक्त बातों का ध्यान रखना चाहिए। ऐसा करने से आप किसी भी तरह की अनहोनी से तो बच ही सकती हैं साथ ही आपके एप्लांसेस लम्बे समय तक चलते हैं।